Home | MEDIA

सूचनाओं तक मीडिया की पहुंच को सीमित कर रही है मोदी सरकार

केन्द्र की नरेन्द्र मोदी सरकार मीडिया से बनाई जा रही दूरी पर अपनी नाराजगी व्यक्त करते हुए एडिटर्स गिल्ड आफ इंडिया ने ...

कमाई पर बना रहेगा टेलीवीजन का दबदबा

देश में भले ही डिजिटल मीडिया की बढ़त सबसे तेज हो लेकिन फिलहाल कमाई के लिहाज से इस पूरे दशक टेलीवीजन सबसे ...

वेब पत्रकारिता ने मीडिया को ज्यादा सुलभ बनाया
 

वेब पत्रकारिता ने मीडिया को ज्यादा सुलभ बनाया

पठनीय सामग्री और आकर्षक कलेवर से छत्तीसगढ़ में अपनी पहचान स्थापित कर चुकी आम आदमी मासिक पत्रिका ने साहित्यिक आयोजनों की ओर कदम बढ़ाते हुए, विगत शनिवार को रायपुर में एक संगोष्ठी का आयोजन किया। इस अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में राज्यसभा सांसद नंद कुमार साय उपस्थित थे जबकि कार्यक्रम की अध्यक्षता रायपुर प्रेस क्लब के अध्यक्ष तथा सन स्टार अखबार के संपादक अनिल पुसदकर ने की। ... Full story

राजदीप के हाथ में हेडलाइन्स टुडे
 

राजदीप के हाथ में हेडलाइन्स टुडे

इंडिया टुडे समूह में स्वागत और विछोह का दौर जारी है। बीते दस दिनों में इंडिया टुडे के चेयरमैन और एडीटर इन चीफ अरुण पुरी ने दूसरी बार साथियों को मेल लिखा है। पहले मेल में यह सूचना थी कि शेखर गुप्ता अब समूह के वाइस चेयरमैन और एडीटरइनचीफ नहीं होंगे बल्कि बतौर सलाहकार समूह की दो पत्रिकाओं का काम काज देखेंगे।अब दस दिन बाद अरुण पुरी ने दूसरा मेल लिखा है और एक और सलाहकार संपादक के नियुक्ति की घोषणा की है। ये हैं राजदीप सरदेसाई। राजदीप सरदेसाई टीवी टुडे ग्रुप के चैनल हेडलाइन्स टुडे को पुनर्गठित करेंगे और आज तक पर भी दिखाई दे सकते हैं। ... Full story

मीडिया में बढ़ते एकाधिकार पर ट्राई का प्रहार
 

मीडिया में बढ़ते एकाधिकार पर ट्राई का प्रहार

भारतीय टेलीकॉम रेगुलेटरी अथारिटी (ट्राई) ने मीडिया में बढ़ते एकाधिकार के खतरे को रोकने के लिए सरकार को अपनी सिफारिश भेजी है। ट्राई सेक्रेटरी सुधीर गुप्ता की तरफ से भेजी गई सिफारिशोंं में मीडिया में सरकार के बढ़ते दखल को रोकने की दलील के साथ ही पूंजीपतियों के बढ़ते एकाधिकार को तोड़ने की सिफिरिश की गई है। ट्राई ने अपनी सिफारिश में कहा है कि न केवल सरकार को मीडिया के मामले में हस्तक्षेप करने से दूर रहना चाहिए बल्कि मीडिया में पूजी के जरिए स्थापित किये जा रहे एकाधिकार को तोड़ने के लिए एचएचआई पद्धति से नियमन और निरीक्षण भी किया जाना चाहिए। ... Full story

इंडिया टुडे के संपादक बने अंशुमान तिवारी
 

इंडिया टुडे के संपादक बने अंशुमान तिवारी

लंबे समय तक दैनिक जागरण के ब्यूरो चीफ रहे अंशुमान तिवारी अब इंडिया टुडे (हिन्दी) के संपादक हो गये हैं। दस दिन पहले उनकी इस पद पर नियुक्ति हो चुकी है और उन्होंने काम काज संभाल लिया है। इंडिया टुडे आने से पहले वे कुछ समय के लिए दैनिक भास्कर समूह के मनीभास्कर.कॉम का काम देख चुके थे। ... Full story

समाचार विस्फोट के तीन साल पूरे
 

समाचार विस्फोट के तीन साल पूरे

नागपुर से प्रकाशित हिंदी मासिक पत्रिका समाचार विस्फोट के सफल प्रकाशन के तीन वर्ष पूरे हो गए हैं। समाचार विस्फोट ने गत तीन वर्षों में एक से बढ़ कर एक गंभीर जनपक्षधर मुद्दों को बेहतरीन ढंग से उठाया है। फिलहाल समाचार विस्फोट का प्रसार महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, मध्यप्रदेश, राजस्थान, बिहार आदि राज्यों के कुछ क्षेत्रों में है। ... Full story

हिन्दी के आंदोलनकारियों को टाइम्स आफ इंडिया ने बताया 'दंगाई'
 

हिन्दी के आंदोलनकारियों को टाइम्स आफ इंडिया ने बताया 'दंगाई'

सिविल सेवा की परीक्षाओं में अंग्रेजी की अनिवार्यता के खिलाफ दिल्ली के मुखर्जी नगर इलाके में चल रहे आंदोलन को अंग्रेजी के अखबार टाइम्स आफ इंडिया ने दंगा करार दे दिया है। टाइम्स आफ इंडिया के आनलाइन संस्करण में मुखर्जी नगर के आंदोलन को दंगा करार देते हुए टाइम्स आफ इंडिया लिखता है "सिविल सर्विसेज की तैयारी करनेवाले छात्र दंगाई बन गये हैं।'' स्टोरी में टाइम्स आफ इंडिया आगे लिखता है कि "बुधवार की रात मुखर्जी नगर और तिमारपुर के इलाके में जमकर हंगामा हुआ।" ... Full story

संपादक समुदाय के माथे पर कलंक
 

संपादक समुदाय के माथे पर कलंक

दिल्‍ली से एक 'अद्भुत' अख़बार पिछले कुछ दिनों से निकल रहा है। नाम है 'प्रजातंत्र लाइव'। इसे निकालने वाला एक चिटफंड समूह है। इसका एक अद्भुत चैनल है 'लाइव इंडिया' और इसी नाम से एक अद्भुत पत्रिका भी है। 'प्रजातंत्र लाइव' नाम के जिस अख़बार में दुष्‍यंत, विमल झा और रासबिहारी जैसे पुराने परिचित पत्रकार खुद को दिन-रात खपाए हुए हैं, उसका 'प्रधान संपादक' कोई प्रवीण तिवारी है जिसकी सुदर्शन तस्‍वीर रोज़ संपादकीय पन्‍ने पर छपती है अलबत्‍ता उसके नाम का लेख किसी का भी लिखा हो सकता है। इस व्‍यक्ति को अपना नाम और तस्‍वीर छपवाने का ऐसा शौक़ है कि वह विशेष आग्रह कर संपादकीय के लोगों से कहता है कि भाई कुछ भी छाप दो मेरे नाम से। ... Full story

अब अतीत की याद: न्यूज 24 लांच के वक्त सुप्रिय प्रसाद और अनुराधा प्रसाद के साथ अजीत अंजुम
 

बहुत कुछ लिखूंगा मगर धीरे धीरे

आखिरकार अजीत अंजुम ने न्यूज 24 से अपना नाता तोड़ लेने के बाद यादों का नाता जोड़ना शुरू कर दिया है। अपने फेसबुक पेज पर आज अजीत अंजुम ने अतीत के अपने दिनों को याद करते हुए कुछ लिखा है और वादा किया है आनेवाले दिनों में बहुत कुछ और भी लिखेंगे। लेकिन धीरे धीरे। तो उन्हीं के फेसबुक वाल से उनकी यादों की पहली किश्त। ... Full story

1 2 3 4 5 6 7 8 9 10 next last total: 667 | displaying: 1 - 10
  1. बाढ़ से ज्यादा झूठ का प्रकोप (5.00)

  2. सपा ने रद्द किया आजम खान का निष्कासन (5.00)

  3. अब शुरू हुआ असली खेल (5.00)

  4. आसान नहीं है कश्मीर का समाधान (5.00)

  5. अशोक चव्हाण ने इस्तीफा दिया, कलमाड़ी हटाये गये (5.00)

find us on facebook
follow us on twitter

Featured author

Praveen Gugnani

Praveen Gugnani

आरएसएस के कट्टर समर्थक और हिमायती प्रवीण गुगनानी सामाजिक सक्रियता के साथ साथ मध्य प्रदेश में रहकर लेखन करते हैं।