सबको रोटी – सबको काम

आज दिल्ली में एसईजेड नीति पर आयोजित एक सभा में बोलते हुए गोविन्दाचार्य ने कहा कि सरकार की एसईजेड नीति से सबको काम नहीं मिल सकता. सबका पेट नहीं भर सकता. इसलिए सरकार को अपनी एसईजेड नीति पर पुनर्विचार करना चाहिए. इस संगोष्ठी का आयोजन उमा भारती की भारतीय जनशक्ति पार्टी ने किया था. इस मौके पर उमा भारती, गोविन्दाचार्य के अलावा हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री ओमप्रकाश चौटाला. पत्रकार प्रेमशंकर झा और राज्यसभा सांसद सरदार तरलोचन सिंह भी उपस्थित थे.

जैसे-जैसे लोगों को एसईजेड की हकीकत पता चल रही है, यह देश का सबसे अहम मुद्दा बनता जा रहा है. यह पहली बार है जब किसी राजनीतिक दल (भले ही वह छोटा राजनीतिक दल है) ने एसईजेड के मुद्दे पर इस तरह का पुरजोर विरोध दर्ज किया है. उमा भारती ने कहा कि यह रोटी की लड़ाई है और इस बारे में सभी राजनीतिक दलों को राजनीति से ऊपर उठकर विचार करना चाहिए. गोविन्दाचार्य ने भी कहा कि गरीबी, बेरोजगारी, अन्याय यह पवित्र मुद्दे हैं और इस पर राजनीति नहीं होनी चाहिए. हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री और इंडियन नेशनल लोकदल के अध्यक्ष ओमप्रकाश चौटाला ने कहा कि हरियाणा की कांग्रेस सरकार ने रिलांयस को 17 सौ एकड़ जमीन कौड़ियों के भाव में बेच दी जबकि सरकार ने उसका अधिग्रहण गुड़गांव शहर के विस्तार को देखते हुए किया था.

इस मुद्दे पर बोलते हुए प्रेमशंकर झा ने कहा कि किसी एक राजनीतिक दल को दोष देना या एसईजेड की आलोचना करने से काम नहीं बनता. हकीकत यह है कि पूरी राजनीतिक व्यवस्था सड़ गयी है जिसका फायदा व्यवसायिक घराने उठा रहे हैं. इस राजनीतिक व्यवस्था की सड़न का ही फायदा उठाकर देश में भूमि हड़पने की नीति पर अमल हो रहा है. उन्होंने कहा कि अगर राजनीतिक दल अपने खर्चे के लिए व्यावसायिक घरानों से चंदा लेंगे तो वे किस मुंह से एसईजेड का विरोध करेंगे. अभी आगे और ऐसे मेगा-प्रोजेक्ट आयेंगे जिसके कारण बड़ी संख्या में लोग दर-बदर होंगे.
(चित्र परिचय – सभास्थल के बाहर लगा बैनर)

2 thoughts on “सबको रोटी – सबको काम

  1. अगर राजनीतिक दल अपने खर्चे के लिए व्यावसायिक घरानों से चंदा लेंगे तो वे किस मुंह से एसईजेड का विरोध करेंगे.सत्य वचन!

    Like

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s