पचौरी को नहीं पैनल को मिला है नोबेल पुरस्कार

कल से लगातार यह रिपोर्टिंग देखकर मैं हैरान हूं कि आर के पचौरी को नोबेल पुरस्कार मिला है. जबकि पुरस्कार उस पैनल को मिला है जिसके अध्यक्ष आर के पचौरी हैं. दोनों में बहुत फर्क है.

इंटरनेशनल पैनल आन क्लाईमेट चेंज (Intergovernmental Panel on Climate Change (IPCC) में 2000 वैज्ञानिक काम करते हैं. और 2002 में एक खास रणनीति के तहत आर के पचौरी को अध्यक्ष बनवाया गया. अमरीका ने अपने ही उम्मीदवार का समर्थन न करके पचौरी को अध्यक्ष बनने में मदद की थी.

नोबेल पुरस्कार भी पैनल को मिला है न कि पचौरी को क्योंकि पैनल ने पर्यावरणीय बदलावों पर खासे महत्व का काम किया है. यह पैनल पिछले दो दशकों से काम कर रहा है. जबकि पचौरी उसके अध्यक्ष 2002 में बने हैं. आज अगर पचौरी पैनल के अध्यक्ष हैं तो अध्यक्ष के नाते वे पुरस्कार ग्रहण करेंगे लेकिन जिस दिन वे अध्यक्ष नहीं रहेंगे, पुरस्कार पैनल के पास ही रहेगा न कि पचौरी के साथ.

दिग्गज भारतीय मीडिया ने पचौरी को ही नोबेल पुरस्कार विजेता बना दिया. क्या बात है.

5 thoughts on “पचौरी को नहीं पैनल को मिला है नोबेल पुरस्कार

  1. बहुत से लोग पचौरी साहब का इंटरव्यू भी ले रहे हैं.धन्य हैं सब लोग.

    Like

  2. खैर अगर मैं पचौरी जी की जगह होता तो मैं भी अत्यंत प्रसन्न होता।

    बाकी पत्रकार! चौथाई पढ़ते हैं, आधा सुनते हैं और पूरा लिखते हैं। बुरा न मानें – पत्रकारों से पंगा लेने का मूड रहा नहीं अब! 🙂

    Like

  3. सही पकड़ा आपने। मैं भी कल से हैरान हूँ, पुरुस्कार IPCC को मिला है और मीडिया पचौरी को Indian Nobel की लिस्ट में बताने में लग गया है।

    Like

  4. sanjay ji..fir se kshama chaahonga..pahle hi bahut sthaanon per apna rosh vyakt ker chuka hun… lekin ek baat hamesha yaad rakhiyega… log ye bolte hain raja ashok mahaan todha thaa..bhagwaan ram ne lanka per vijay haasil keri…toh kya sabko ashok ne maara..poore kalinga ko ashok ne akele nasht kiya..yaa ram ne poori lanka akele jeeti……. nahee naa………
    bas yah to is shristi ke niyam hai , neta hi purashkaar ka adhikaaari hota hai…kuch log hain jo samajhna hi nahee chaahte ki desh tarakki ker rehaa hai… agar nahee milta to patrkaar bandhu bolte ki pachuriji bhartiya hain isliye nahee diya bhedbhaav kiya…..
    jaise ek chana bhaand nahe fod sakta waisee hi 2000 vagyaanikon ne ek saathmilker bhaand foda hai..aur uska netratva pachuriji ker rehe thee…bas thoda sa atmachintan ki jaroorat hai likhne se pahle… jai shri ram…allah hafiz.

    Like

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s