लद्दाख में लव जिहाद

Ladakhi women leh danceकेरल के बाद अब भारत के एकमात्र बौद्ध बहुल क्षेत्र लद्दाख से लव जिहाद की खबरे आ रही हैं। लद्दाख में योजनापूर्वक ढंग से बौद्ध लड़कियां लव जिहाद का शिकार बनायी जा रही हैं ताकि लद्दाख को भी मुस्लिम बहुल क्षेत्र बनाया जा सके।

टाइम्स आफ इंडिया में छपी खबर के मुताबिक इस संबंध में लद्दाख बुद्धिस्ट एसोशिएशन प्रधानमंत्री मोदी से मिलने की तैयारी कर रहा है ताकि लद्दाख में बौद्ध महिलाओं और लड़कियों को बचाया जा सके।

खबर के मुताबिक पिछले साल एक तीस साल की बौद्ध महिला का धर्म परिवर्तन करके उसके साथ एक मुस्लिम ने शादी कर लिया था जिसके बाद से लद्दाख में माहौल तनावपूर्ण है। बुद्धिस्ट महिला दिल्ली में एक एनजीओ में काम करती थी और वहीं उसके साथ मुर्तजा आगा भी काम करता था। यहीं दोनों का मेलजोल बढ़ा जिसके बाद दोनों ने शादी कर ली। शादी से पहले बौद्ध महिला का धर्म परिवर्तित करके इस्लाम कबूल करवाया गया और उसका नाम बदलकर शिफा कर दिया गया।

हालांकि उसने राज्य सरकार को चिट्ठी लिखकर बताया कि यह शादी उसने अपनी मर्जी से की है लेकिन लेकिन लद्दाख बुद्धिस्ट एसोसिएशन का कहना है यह चिट्ठी उसने मुर्तजा के दबाव में लिखी है। लद्दाख बुद्धिस्ट एसोसिएशन का कहना है कि हमें खत्म करने की साजिश रची जा रही है। हम इसके खिलाफ खून के आखिरी कतरे तक लड़ेंगे।

लद्दाख में दो जिले आते हैं जिसमें बौद्ध और मुस्लिम आबादी बराबर है। २ लाख ७४ हजार की आबादी में आधे बौद्ध हैं और आधे मुस्लिम। लेकिन बीते कुछ सालों से वहां मुस्लिम नौजवानों द्वारा बौद्ध लड़कियों से शादी करने की घटनाएं बढ़ी हैं जिसे लेकर लद्दाख के बौद्ध परेशान हैं। बुद्धिस्ट एसोसिएशन का कहना है मुस्लिम नौजवान खुद को बौद्ध बताकर लड़कियों से जान पहचान बढ़ाते हैं और शादी कर लेते हैं। बाद में पता चलता है कि वो बौद्ध नहीं मुस्लिम हैं। २००३ से अब तक ४५ लड़कियों का मामला सामने आ चुका है जहां उनके साथ धोखाधड़ी करके शादी की गयी और उन्हें इस्लाम कबूल करवाया गया।

यहां भी हालात वही हैं जो बर्मा के रेखिन प्रांत में हैं। रेखिन में भी रोहिंग्या मुस्लिमों द्वारा जब बौद्ध लड़कियों को अगवा करना, उनको प्रेमजाल में फंसाकर शादी करने की घटनाएं बढ़ने लगी तो रेखिन बौद्धों ने असिन विराथू के नेतृत्व में एक आंदोलन शुरु किया जिसमें मांग की गयी थी कि सरकार ऐसा कानून बनाये कि अगर कोई मुस्लिम लड़का बौद्ध लड़की से शादी करता है तो वह बौद्ध धर्म स्वीकार कर लेगा। सरकार ने ऐसा कोई कानून नहीं बनाया जिसके बाद वहां मुस्लिम और बौद्धों के बीच टकराव बढ़ गया।

केरल में पहले ही लव जिहाद की खबरें आ रही हैं जहां पापुलर फ्रंट आफ इंडिया के लोग हिन्दू और ईसाई लड़कियों को लव जिहाद का शिकार बना रहे हैं। सुप्रीम कोर्ट के दखल के बाद अब इस मामले की जांच एनआईए को सौंपी गयी है। एनआईए ने अपनी शुरुआती जांच में इन आरोपों को सही पाया है और खबर है कि अब केन्द्र सरकार पापुलर फ्रंट आफ इंडिया और उससे जुड़े संगठनों को बैन करने की तैयारी कर रहा है।

One thought on “लद्दाख में लव जिहाद

  1. जो लोग अपनी लड़कियों को नहीं सम्भाल पाते, वो किसी दूसरे का मुकाबला क्या करेंगे।
    हर बौद्ध म्यांमार की तरह नहीं सोच सकता। अगर ये सोच उनके पास होती तो शायद आज ये नौबत ही नहीं आती।

    Like

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s